Home दुर्गा माँ कथाएं देवताओं द्वारा देवी की स्तुति, चं‡ड-मुं‡ड के मुख से अम्बिका के रूप की प्रशंसा सुनकर शुम्भ का उनके पास दूत भेजना और दूत का निराश लौटनाः पांचवां अध्याय

देवताओं द्वारा देवी की स्तुति, चं‡ड-मुं‡ड के मुख से अम्बिका के रूप की प्रशंसा सुनकर शुम्भ का उनके पास दूत भेजना और दूत का निराश लौटनाः पांचवां अध्याय

error: Content is protected !!