Home गीता ज्ञान अमृत/रामचरित मानस श्रीरामचरितमानस- कृष्न तनय होइहि पति तोराः रति को शिव का वरदान- कृष्ण के पुत्ररूप में होगा काम का पुनर्जन्म

श्रीरामचरितमानस- कृष्न तनय होइहि पति तोराः रति को शिव का वरदान- कृष्ण के पुत्ररूप में होगा काम का पुनर्जन्म

error: Content is protected !!