Home पुराण की कथा केदारनाथ ज्योतिर्लिंगः पांडवों को प्रत्यक्ष दर्शन देने से बचने के लिए महादेव भैंसे के रूप में होने लगे अंतर्धान, भीम ने पकड़ ली पूंछ तो प्रकट हो गए भोलेनाथ

केदारनाथ ज्योतिर्लिंगः पांडवों को प्रत्यक्ष दर्शन देने से बचने के लिए महादेव भैंसे के रूप में होने लगे अंतर्धान, भीम ने पकड़ ली पूंछ तो प्रकट हो गए भोलेनाथ

error: Content is protected !!