Home उपयोगी कथा क्षमा का स्थान दंड से ऊंचा है, जैसे कद बढ़ता जाए, क्षमाशीलता बढ़नी चाहिए- प्रेरक कथा

क्षमा का स्थान दंड से ऊंचा है, जैसे कद बढ़ता जाए, क्षमाशीलता बढ़नी चाहिए- प्रेरक कथा

error: Content is protected !!